सरकार की नीतियों के खिलाफ लामबंद हुए केंद्रीय कर्मचारी

उत्तर प्रदेश

कानपुर नगर, डेस्क।

ट्रेड यूनियंस के केंद्रीय संगठनों के आह्वान पर शहर में बैंकों की हड़ताल में 75 फीसद शाखाओं में कार्य प्रभावित रहा। सुबह 10 बजे के पहले ही तमाम बैंकों के बाहर हड़ताल के पोस्टर चस्पा कर दिए गए। बैंक शाखाओं के बाहर कर्मचारियों ने धरना, प्रदर्शन, नारेबाजी शुरू कर दी। यूपी बैंक इंप्लाइज यूनियन के आह्वान पर हुई हड़ताल में बड़े पदाधिकारियों ने पंजाब सिंध बैंक के सामने धरना दिया। हालांकि इस बीच स्टेट बैंक की शाखाओं में कार्य चलता रहा। पंजाब नेशनल बैंक प्रोग्रेसिव एसोसिएशन के हड़ताल से अलग होने की वज से पंजाब नेशनल बैंक की तमाम शाखाओं में कार्य होता रहा। इसके साथ ही जीवन बीमा, सामान्य बीमा, आयकर विभाग में भी हड़ताल रही और कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया।  

80 करोड़ की जमा राशि का फंड हुआ प्रभावित 

शहर की बैंकों की 616 शाखाओं में से बड़ा चौराहा स्थित इंडियन बैंक, यूनियन बैंक में भी प्रदर्शन हुए।

 

 

पंजाब सिंध बैंक के प्रदीप श्रीवास्तव ने दावा किया कि हड़ताल से कानपुर में 80 करोड़ रुपये की जमा व निकासी प्रभावित हुई. वहीं 65 करोड़ रुपये का फंड स्थानांतरण प्रभावित हुआ।  बिरहाना रोड स्थित पंजाब सिंध बैंक के सामने धरना देने वालों में मनोज तिवारी, सुधीर सोनकर आदि रहे।

 


अपनी राय, लेख और खबरें हमें नीचे कमेंट पेटी या the.journalistss1@gmail.com या व्हाट्सएप 6269177430 के जरिये भेजें. 

फेसबुकट्विटरयूट्यूब  हमसे जुड़ेें

Leave a Reply